राम लखन गौतम - माननीय अमिताभ बाजपेई की अगुवाई में शिक्षक पार्क में सपा का विशाल धरना प्रदर्शन



सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष माननीय अखिलेश यादव जी के मार्ग-निर्देशन पर आज क्रांति दिवस के अवसर पर आदरणीय विधायक अमिताभ बाजपेई जी की अगुवाई में समाजवादी पार्टी का विशाल धरना प्रदर्शन शिक्षक पार्क में संपन्न हुआ. धरने में विशाल संख्या में कार्यकर्ताओं ने बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया और आंदोलन को सफल बनाने में अहम भूमिका का निर्वहन किया. 
  
गौरतलब है कि प्रदेश और केंद्र सरकार की नीतियों को लेकर माननीय अखिलेश यादव जी के द्वारा सभी पार्टी कार्यकर्ताओं से वृहद् स्तर पर क्रांति दिवस पर धरना प्रदर्शन का शांतिपूर्ण प्रदर्शन करने का खाका तैयार किया गया था, जिसका विशाल आयोजन आज देखने को मिला. सरकार की जिन नीतियों के खिलाफ इस प्रदर्शन के माध्यम से आवाज उठाई गयी, वें इस प्रकार हैं:
  
1. भाजपा प्रदेश सरकार के शासन में हो रही हत्याएं, लूट और अराजकता.
2. प्रदेश में बिगडती कानून व्यवस्था.
3. महिलाओं के खिलाफ बढ़ता अनाचार, जिसका सबसे ताजातरीन उदाहरण उन्नाव रेप कांड है.
4. मॉब लिंचिंग
5. लगातार हो रही बिजली कटौती.
6. पेट्रोल-डीजल इत्यादि के दामों में निरंतर इजाफ़ा.
7. एवीएम मशीनों में हो रही गड़बड़ी इत्यादि.
  
उपर्युक्त सभी मुद्दों पर किया गया आज का प्रदर्शन वाकई जोश एवं उत्साह से परिपूर्ण था, जिसके लिए मैं माननीय अमिताभ बाजपेई जी को हार्दिक साधुवाद देता हूं, उनका दिशा-निर्देशन हम सभी के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण था. साथ ही सभी सम्मिलित भाइयों को भी मेरा हार्दिक धन्यवाद, जिन्होंने अपना अमूल्य समय देकर पार्टी के प्रति निष्ठा प्रकट करते हुए इस धरने को सफल बनाया.    

आपका 
राम लखन गौतम 
सपा नेता, बिल्हौर विधानसभा 
-सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष माननीय अखिलेश यादव जी के मार्ग-निर्देशन पर आज क्रांति दिवस के अवसर पर आदरणीय
क्षेत्र की आम समस्याएँ एवं सुझाव दर्ज़ करवाएं.

क्षेत्र की आम समस्याएँ एवं सुझाव दर्ज़ करवाएं.

नमस्कार, मैं रामलखन गौतम आपके क्षेत्र का प्रतिनिधि बोल रहा हूँ. मैं क्षेत्र की आम समस्याओं के समाधान के लिए आपके साथ मिल कर कार्य करने को तत्पर हूँ, चाहे वो हो क्षेत्र में सड़क, शिक्षा, स्वास्थ्य, समानता, प्रशासन इत्यादि से जुड़े मुद्दे या कोई सुझाव जिसे आप साझा करना चाहें. आप मेरे जन सुनवाई पोर्टल पर जा कर ऑनलाइन भेज सकते हैं. अपनी समस्या या सुझाव दर्ज़ करने के लिए क्लिक करें - जन सुनवाई.

क्या यह आपके लिए प्रासंगिक है? मेसेज छोड़ें.